दो विषय में स्नातक कैसे करें ? क्या दो विषय में स्नातक किया जा सकता है ? विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) के अनुसार दो विषय में किया जा सकता है स्नातक,,,,


दो विषय में स्नातक कैसे करें ? क्या दो विषय में स्नातक किया जा सकता है ? पूरी जानकारी यहाँ से प्राप्त करें : Two Subject Graduation Full Ingormation Get Here .

Hello फ्रेंड्स onlinebharo.com में आपका स्वागत है। फ्रेंड्स आज आपको एक बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी इस पोस्ट में बताया गया है। यह जानकारी शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े उन सभी लोगों को जानना चाहिए जो अपनी शैक्षिणिक योग्यता को बढ़ाना चाहते है। और एक से अधिक विषयों में डिग्री लेना चाहते है।


फ्रेंड्स शिक्षा प्राप्त करना हम सभी का मौलिक अधिकार है। और हम शिक्षा के क्षेत्र में अपने आपको चाहे जितना भी आगे बढ़ाना चाहते है बढ़ा सकते है। साथ ही अपने ज्ञान का विस्तार भी हम अपने क्षमता के अनुसार कर सकते है।

ये भी पढ़ें :-UDISE DATA की ऑनलाइन एंट्री कैसे करें -पूरी जानकारी  


आज आपको इसी विषय पर आवश्यक जानकारी बता रहे है। यदि आप शिक्षा विभाग से सम्बंधित है या शिक्षक है तो आज का ये पोस्ट निश्चित ही आपके लिए बहुत उपयोगी होने वाला है। क्योंकि आज के इस पोस्ट हम एक से अधिक विषय में स्नातक डिग्री के बारे में बात करेंगे।

महत्वपूर्ण जानकारी इसे  पढ़ें >>

👉TET परीक्षा की सार्टिफिकेट कैसे डाउनलोड करें  

👉राज्य स्तरीय ऑनलाइन क्लास में कैसे जुड़ें -यहाँ से भी सीधे जुड़ सकते है  

👉सत्र 2020-21 के लिए विद्यार्थियों की ऑनलाइन एंट्री कैसे करें -पूरी जानकारी 

👉CGSCHOOL APP से ऑफलाइन कैसे होगी पढ़ाई 

एक से अधिक विषयों में स्नातक कैसे करें ? क्या एक से अधिक विषय में स्नातक किया जा सकता है ? इन सभी प्रश्नो का उत्तर आपको स्पष्ट रूप से बताने वाले है। आप ये आर्टिकल अंत तक जरूर पढ़ें और आपके मन में दो विषय में स्नातक करने का जो संसय है उसे दूर कर सकते है। चलिए फ्रेंड्स आज के इस महत्वपूर्ण विषय पर पूरी जानकारी बताते है।

क्या आप एक से अधिक विषय में स्नातक की डिग्री लेना चाहते है यदि ऐसा सोच रहे है तो आपको ये आर्टिकल पूरा पढ़ना चाहिए क्योंकि आज हम आपको मल्टी ग्रेडुएशन के बारे में आपको बताने वाले है। आज के इस आर्टिकल में हम बातएंगे की यदि आप एक से अधिक विषय में स्नातक करना चाहते है तो आपको क्या करना होगा। और ये कैसे संभव है ?

ये भी पढ़ें -अंकसूची की द्वितीय प्रति कैसे प्राप्त करें ?अपने मोबाइल से देखें अंकसूची। आपको ये स्टेप फॉलो करना है और आप मिनटों में प्राप्त कर सकते है अंकसूची

क्या है स्नातक की डिग्री-What Is Graduation Digree ?

स्नातक की डिग्री के बारे में आप सभी को मालूम ही होगा -जैसे स्नातक की डिग्री कब प्राप्त करते है या फिर कौन स्नातक कर सकता है। फिर भी हम आपको आज इसके बारे में पूरा विस्तार से बताएँगे। क्योंकि कुछ लोग ऐसे भी होते है जो अभी अभी स्नातक के लिए प्रवेश करने वाले है। यदि आप भी स्नातक कर रहे है या करने वाले है तो आप नीचे की जानकारी जरूर पढ़ें।


यदि आप   हायर सेकेंडरी (10 +2 ) या समकक्ष कक्षा उत्तीर्ण कर चुके है तो आप स्नातक स्तर की कक्षा में प्रवेश करने के योग्य माने जाते है। आप किसी भी विश्वविद्यालय से अपने आगे की पढाई शुरू कर सकते है। अर्थात आप कालेज में पढाई कर सकते है। आपको बता दें की स्नातक की डिग्री के लिए आपको तीन वर्ष का इन्तजार करना पड़ता है। प्रथम वर्ष ,द्वितीय वर्ष और तृतीय वर्ष।

जब आप तीसरे वर्ष की परीक्षा सफलता पूर्वक उत्तीर्ण कर लेते है तो UGC द्वारा आपको तीन वर्षीय डिग्री दे दिया जाता है। और तब आप स्नातक की डिग्री धारी हो जाते है। यह बैचलर डिग्री कहलाता है। ये स्नातक की डिग्री प्राप्त कर लेने के बाद आप ग्रेडुएट हो जाते है। और आगे मास्टर डिग्री के लिए योग्य हो जाते है। आगे देखिये आप कौन से विषय से क्या डिग्री ले सकते है।

12 वीं मे उत्तीर्ण विषय के आधार पर आगे ग्रेजुएशन में विषय का चयन करना :

यदि आप 12 वीं में कला समूह लेकर पढ़ें है तो आप विश्वविद्यालय में  स्नातक में  बी ए के लिए दाखिला ले सकते है। यदि आप 12 वीं में विज्ञान समूह से उत्तीर्ण है तो स्नातक के लिए आपका सबसे पहले चॉइस बी एस सी होना चाहिए। लेकिन बहुत से लोग बी ए कर लेते है। और आगे उनको विज्ञान समूह में जाने के लिए बी एस करना पड़ता है। इसी प्रकार और भी बहुत से विषयों में स्नातक किया जा सकता है। जैसे बी कॉम ,बी सी ए ,लॉ  और भी बहुत कुछ। 

दो विषयों में स्नातक करना  :

यदि आप एक से अधिक विषय में स्नातक करना चाहते है तो UGC से अनुमति लेकर दूसरे विषय में भी स्नातक कर सकते है। इसके लिए UGC द्वारा स्पष्ट किया गया है की  उच्च शिक्षा प्राप्त करना प्रत्येक भारतीय नागरिक का मौलिक अधिकार है। स्नातक के लिए आपके पास न्यूनतम योगयता होना जरुरी है।


UGC के EDUCATION REGULATION 2003 के अनुसार स्नातक योग्यता प्राप्त करने के बाद पुनः दूसरे विषय में  स्नातक किया जा सकता है। यह सम्बंधित विश्वविद्यालय का निजी प्राधिकार है ,अर्थात विश्वविद्यालय को अवगत कराकर आप दूसरे विषय में स्नातक कर सकते है।


यदि विश्वविद्यालय चाहे तो आपको डिग्री दे सकता है या नहीं भी दे सकता है। UGC से प्राप्त लेटर को आप नीचे दिए लिंक से डाऊनलोड कर सकते है। यह लेटर विश्वविद्यालय अनुदान बहादुर शाह जफर मार्ग नई दिल्ली द्वारा जारी किया गया है।

👉UGC की दो विषय में स्नातक सम्बन्धी लेटर डाऊनलोड करें। 

पूर्व में किया गया स्नातक /स्नातकोत्तर अमान्य हो जायेंगे 

यदि आप भी एक से अधिक विषय में स्नातक करना चाहते है तो आपको ये जरूर जानकारी होना चाहिए की आपके द्वारा पूर्व में प्राप्त किया गया स्नातक और स्नातकोत्तर की डिग्री अमान्य हो जाएगी।

आपको उदाहरण के तौर पर समझाना चाहेंगे -जैसे  कोई बी ए(राजनीति ,भूगोल ,इतिहास ) अंतिम वर्ष उत्तीर्ण करके किसी विषय (राजनीती शास्त्र ) में स्नातकोत्तर भी कर लिया। और अब इसके बाद पुनः अन्य विषय मानलो राजनीति ,अंग्रेजी साहित्य ,भूगोल ) विषय के साथ  फिर से  स्नातक करना चाहता है या बी एस सी करना चाहता है तो पूर्व में किया गया स्नातक (बी ए ) और स्नातकोत्तर (एम ए ) की डिग्री को अमान्य कर दिया जायेगा। अर्थात आप अब अपने पूर्व की डिग्री को प्रयोग नहीं कर सकते है। 

पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय ने इस सम्बन्ध में अधिसूचना जारी कर  स्पष्ट किया है। जिसे आप नीचे अध्ययन कर सकते है।

लेटेस्ट अपडेट  के लिए व्हाट्सएप्प ग्रुप ज्वाइन करें 


👉पंडित रविशंकर विश्विद्यालय की दो विषय में स्नातक सम्बन्धी सुचना डाऊनलोड करें। 


सेवा पुस्तिका(Service Book  में केवल एक स्नातक दर्ज 

यदि आप शासकीय कर्मचारी है तो आपको  अपनी शैक्षणिक योग्यता को सेवा पुस्तिका में दर्ज करना अनियार्य होता है। सेवा पुस्तिकामें केवल एक ही स्नातक डिग्री दर्ज किया जा सकता है।

यदि आप किसी विषय में स्नातक डिग्री प्राप्त करके उसे अपने सेवा पुस्तिका में दर्ज करा लिए है और बाद में दूसरे विषय में भी स्नातक कर लेते है तो अब आप दूसरे विषय की स्नातक डिग्री को सेवा पुस्तिका में दर्ज नहीं करा पाएंगे। 

यदि आप एक सरकारी कर्मचारी है और पहले ही किसी विषय में स्नातक कर चुके है ,और अब पुनः अन्य विषय में स्नातक करना चाहते है तो अपने विभाग के सक्षम अधिकारी से अनुमति लेना अनिवार्य होगा। 

अनुमति के लिए दिए गए आवेदन में इस बात का उल्लेख करना भी अनिवार्य होगा कि आपने पहले ही किसी विषय में स्नातक कर  और अब अन्य  करना चाहते है।  

आज के आर्टिकल में दो विषय में स्नातक कैसे करें ? क्या दो विषय में स्नातक किया जा सकता है ?  जानकरी बताया गया है। उम्मीद करते है ये जानकरी आपके लिए उपयोगी सिद्ध होगी और आपको अच्छा भी लगा होगा। 

इसी प्रकार नए नए उपयोगी जानकरी पाने के लिए onlinebharo.com में पुनः विजिट करें। इसे आप सीधे गूगल में सर्च करके यहाँ पहुँच सकते है। 


ये भी पढ़ें 

आप हमारे व्हाट्सप्प ग्रुप में भी जुड़ सकते है 

Post a Comment

0 Comments