शिक्षकों के पदोन्नति की जानकारी |उच्च वर्ग शिक्षक , प्राथमिक प्रधानपाठक, पूर्व माध्यमिक शाला प्रधान पाठक और व्याख्याता के पद में होगी पदोन्नति।



शिक्षकों का प्रमोशन -उ.व.शि.,व्याख्याता ,प्रधान पाठक (प्रा/मिडिल)  के पदों में होगी पदोन्नति,,,प्रक्रिया शुरू -यहां देखें  


पदोन्नति :- शिक्षा विभाग में पदोन्नति के पात्र शिक्षकों (सहायक शिक्षक /उच्च वर्ग शिक्षक /प्रधान पाठक ) के लिए बहुत ही अच्छी खबर आज आपके साथ साझा करने वाले है। खासकर सहायक शिक्षकों के लिए ये जानकारी काफी महत्वपूर्ण है क्योकी शिक्षकों की पदोन्नति बहुत जल्द होने वाली है।

पदोन्नति की प्रक्रिया लगभग तीन वर्ष बाद फिर से शुरू हुआ है। इससे पहले 2016 में पदोन्नति हुई थी।  फ्रेंड्स आपको बताना चाहता हु इस सत्र  में पदोन्नति की प्रक्रिया पूरा कर लिया जायेगा। आपको ये अपडेट  दिनांक 18 मार्च 2020 की स्थिति में दिया जा रहा है।


हेल्लो फ्रेंड्स Onlinebharo.com में आपका स्वागत है। फ्रेंड्स आज आपको शिक्षकों के पदोन्नति के बारे में विस्तार से बताने वाले है। साथ ही आपको यहाँ से वरिष्ठता सूचि की जानकारी भी बताई  जाएगी जिसमे पूरी सूचि आप डाऊनलोड करके देख सकते है।

इसे पढ़ें >> संभाग स्तर में सहायक शिक्षक और शिक्षकों की वरिष्ठता सूचि लेटेस्ट अपडेट 


 Join Whatsapp Group (Join This Link )
शिक्षकों की पदोन्नति की जानकारी आज के इस आर्टिकल में बताया गया है। आज का ये पोस्ट शिक्षा विभाग से सम्बंधित है यदि आप भी शिक्षा विभाग में शिक्षक के पद में कार्य कर रहे है तो ये आर्टिकल आपके लिए ही है। पूरी जानकारी के लिए अंत तक जरूर पढ़ें।

फ्रेंड्स जैसे की आपको इससे पहले भी हमारे इस वेबसाइट onlinebharo.com के माध्यम से शिक्षकों की पदोन्नति के विषय में लेटेस्ट जानकारी बताया गया है।

आज फिर से आपको एक लेटेस्ट जानकारी बताया जा रहा है। पदोन्नति के पात्र शिक्षकों के लिए एक अच्छी खबर क्योंकि पदोन्नति के लिए पांच वर्ष का गोपनीय चरित्रावली और चल अचल संपत्ति का विवरण माँगा गया है। और बहुत जल्द ही पदोन्नति की कार्यवाही पूर्ण कर लिया जायेगा।

क्या है पदोन्नति ? What Is Promotion ?

प्रमोशन एक विभागीय प्रक्रिया है जो उस  विभाग के कर्मचारियों के सेवा के आधार पर किया जाता है।अलग अलग विभाग के लिए पदोन्नति की समय सीमा अलग अलग  होती है। यदि शिक्षा विभाग में शिक्षकों के पदोन्नति की बात करें तो यह समय सीमा 5 वर्ष  है। 

शिक्षकों को अलग अलग वर्गों में बांटा गया है जैसे- सहायक शिक्षक ,शिक्षक ,उच्च वर्ग शिक्षक ,प्रधान पाठक ,व्याख्याता ,प्राचार्य आदि। इन  वर्गों में कुछ पद पदोन्नति से भरे जाते है।  पदोन्नति से भरे जाने वाले पद उच्च वर्ग शिक्षक ,प्रधान पाठक ,व्याख्याता ,प्राचार्य  आदि है। 

प्रधान पाठक प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक शाला के पद में पदोन्नति (Promotion To Headmaster Primary and Middle)

आज के इस आर्टिकल में विशेष रूप से प्रधान पाठक प्राथमिक शाला एवं पूर्व माध्यमिक शाला के बारे में बताया जा रहा है क्योंकि जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय से नियमित उच्च वर्ग शिक्षक,सहायक शिक्षक नियमित /एल बी  और प्रधान पाठक प्राथमिक शाला से पूर्व माध्यमिक शाला प्रधान पाठक ,प्राथमिक शाला प्रधान पाठक और व्याख्याता के पदों में पदोन्नति के लिए प्रस्ताव तैयार करने कहा गया है। 

जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय रायगढ़ से सभी अधीनस्थ विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय और प्राचार्यों को एक पत्र जारी किया गया है यह पत्र पदोन्नति के सम्बन्ध में है। जारी पत्र में स्पष्ट रूप से पदोन्नति के लिए प्रस्ताव तैयार करने को कहा गया है।

👉 पदोन्नति प्रस्ताव आदेश डाऊनलोड करें 


Join Whatsapp Group (Join This Link )
आज के इस आर्टिकल में जो पदोन्नति की प्रक्रिया के बारे में बताया गया है उसमे व्याख्याता ,उच्च वर्ग शिक्षक ,प्रधान पाठक (प्राथमिक /मिडिल ) के पदों में पदोन्नति की बात कही गयी है। इसके लिए उच्च वर्ग शिक्षक ,प्राथमिक प्रधान पाठक ,सहायक शिक्षक (नियमित /एल बी ) की पांच वर्ष की गोपनीय प्रतिवेदन और चल अचल सम्पत्ति का विवरण माँगा गया है।

पदोन्नति की प्रक्रिया जल्द ही शुरू किया जायेगा इसके लिए विभाग ने तैयारी कर भी लिया है। शिक्षकों की वरिष्ठता सूचि भी तैयार किया जा चूका है इसी वरिष्ठता सूचि के आधार पर पदोन्नति प्रस्ताव तैयार किया जायेगा। वरिष्ठता सूचि की ऑनलाइन जानकारी भी हमारे पिछले आर्टिकल में बताया गया है। इस पोस्ट में उसका लिंक दिया गया है इसके माध्यम से जानकारी प्राप्त कर सकते है।

पदोन्नति के लिए शैक्षणिक योग्यता (Educational Qualification For Promotion)



शिक्षकों की पदोन्नति उनके शैक्षिणिक योग्यता के आधार पर की जाती है। जैसे कि आपको पहले ही बताया जा चूका है कि शिक्षकों के अलग अलग वर्ग है उन वर्गों में कुछ नियम के आधार पर पदोन्नति दी जाती है। पदोन्नति के लिए शिक्षकों की शैक्षिणिक योग्यता भी एक महत्वपूर्ण पहलु है इसके बारे में आपको यहाँ विस्तार से बताया गया है।

प्रधान पाठक पूर्व माध्यमिक शाला के पद में पदोन्नति के लिए प्राथमिक शाला के प्रधानपाठक और उच्च वर्ग शिक्षक योग्य होते है इसके लिए उनकी शैक्षणिक योग्यता स्नातक /स्नातकोत्तर  के साथ व्यावसायिक डिग्री डीएड या बीएड होना जरुरी है। 

शिक्षक (एल बी) संवर्ग की पदोन्नति (Promotion Of LB Teachers)



शिक्षाकर्मी से शिक्षक एल बी बने संवर्ग की पदोन्नति के लिए अभी तक स्पष्ट निर्देश या आदेश जारी नहीं किया गया है। लेकिन कुछ जानकारों का माने तो शिक्षक एल बी संवर्ग की पदोन्नति भी बहुत जल्द होने वाली है। इसके लिए शिक्षक एल बी संवर्ग की वरिष्ठता सूचि भी तैयार कर लिया गया है।

गोपनीय चरित्रावली और चल-अचल संपत्ति का विवरण (CR And Property Detail )

वर्तमान में पदोन्नति के लिए गोपनीय चरित्रावली और चल अचल संपत्ति का विवरण माँगा गया है जिसमे सहायक शिक्षक (एल बी ) की जानकारी भी शामिल है। यह निश्चित ही एल बी संवर्ग के पदोन्नति का संकेत है।

इसे पढ़ें>> शिक्षकों की पदोन्नति 5 वर्ष की सेवा पूर्ण होने पर राजपत्र में प्रावधान

गोपनीय प्रतिवेदन और चल अचल संपत्ति का विवरण पिछले पांच वर्ष का देना होगा। इसके लिए सत्र -2015 -16 से  2019-20 तक की जानकारी शिक्षकों को देनी होगी।  विकासखंड शिक्षा अधिकारीयों को सभी पात्र शिक्षकों की जानकारी  05/04/2020 तक  जमा करने कहा गया है।

एल बी संवर्ग की पदोन्नति के लिए अलग अलग लोगों का विचार अलग अलग सुनने में आता है -जैसे कि कुछ लोग कहते है शिक्षाकर्मी का संविलियन होने के समय पिछली सेवा को शून्य कर दिया गे था इस हिसाब से अब एल बी संवर्ग के शिक्षकों को संविलियन के बाद पांच साल की सेवा के बाद प्रमोशन दिया जायेगा।

वरिष्ठता सूचि के आधार पर प्रमोशन प्रस्ताव यहाँ देखें (According To Seniority List Promotion Proposal)

अभी जो पदोन्नति की प्रक्रिया के लिए प्रस्ताव तैयार करने को कहा गया है उसमे इस बात का स्पष्ट उल्लेख है की जो वरिष्ठता सूचि पूर्व में तैयार किया गया है उसी के आधार पर ही पदोन्नति की जाएगी। ये जो वरिष्ठता सूचि तैयार किया गया है वह 01.04.2019 की स्थिति में तैयार किया गया है।

वरिष्ठता सूचि का प्रकाशन विकासखंड और जिला स्तर के साथ साथ संभाग स्तर पर भी किया जा चूका है। यदि आप वरिष्ठता सूचि में अपना नाम देखना चाहते है तो इसके लिए हमने अपने पिछले आर्टिकल में विस्तार से बताया गया है। यहाँ आपको उसका लिंक दिया है।

शिक्षकों की पदोन्नति ,वरिष्ठता सूचि ,वेतन गणना और अन्य किसी भी जानकारी के लिए आप हमारे ऑफिसियल वेबसाइट Onlinebharo.com पर विजिट कर सकते है।

प्रमोशन के लिए प्रस्ताव इन बिंदुओं के आधार पर होगी (Points Of Proposal For Promotion)

  • संभाग स्तर से जारी वरिष्ठता सूचि के क्रम में प्रस्तावना तैयार किया जाये। 
  • शैक्षणिक योग्यता स्नातक /स्नातकोत्तर /प्रशिक्षित होने पर ही प्रस्ताव सूचि में शिक्षक के नाम शामिल किये जाये। 
  • गोपनीय चरित्रावली पांच वर्ष का भरा जाना चाहिए। ( वर्ष 2015-16  से 2019-20 तक ) 
  • चल अचल संपत्ति का विवरण  ( वर्ष 2015-16  से 2019-20 तक ) 
  • दिव्यांग शिक्षक के दिव्यांगता का प्रकार और प्रतिशत भी अंकित करें। पदोन्नति में दिव्यांगता का आरक्षण होने के कारण ये जानकारी जरुरी किया गया है। 
  • जाती संवर्ग का स्पष्ट उल्लेख किया जाये। 
  • शैक्षणिक योग्यता में विषय अंकित करने की आवश्यकता नहीं है। 
  • ई और टी संवर्ग का प्रस्ताव अलग अलग तैयार किया जाये। 
ये भी पढ़ें 

➦शिक्षकों की वरिष्ठता सूचि की पूरी जानकारी यहाँ से प्राप्त करें। 

➦पदोन्नति की प्रक्रिया और पूरी जानकारी पढ़ें। 

 जनगणना 2021 में शिक्षकों की ड्यूटी -मानदेय 30 हजार तक। 

  शिक्षक एल बी का प्रमोशन -बीइओ ,जे डी ,प्राचार्य एवं अन्य उच्च पद में। 

Post a Comment

0 Comments