स्थायी जाति के लिए आवेदन फार्म को कैसे भरें -पूरी जानकारी स्टेप बाई स्टेप देखें। How To Fill Cast Certificate Form- ST/SC/OBC

जाति प्रमाण पत्र -आवेदन फार्म कैसे भरें - ST,SC,OBC 

स्कूलों में पढ़ने वाले सभी  विद्यार्थियों का स्थायी जाति प्रमाण पत्र बनाने के आदेश शासन ने जारी किया है। इसके अंतर्गत शासकीय स्कूलों में अध्ययन करने वाले कक्षा 1 से 12 वी तक सभी वर्गों (ST,SC,OBC) के विद्यार्थियों का स्थयी जाति प्रमाण पत्र बनाया जाना है। 

आवेदन फार्म को भरकर जमा करना है ,जिसका स्केनिंग करने और दस्तावेजों की जाँच के बाद विद्यार्थियों को स्थायी जाति प्रमाण पत्र ऑनलाइन जारी किया जायेगा। 


आज के इस लेख में हम स्कूलों में भरे जाने वाले स्थायी जाति प्रमाण पत्र की पूरी जानकारी बताएँगे साथ ही इस प्रक्रिया में लगने वाले आवश्यक दस्तावेजों के बारे में बताएँगे। 

दोस्तों आज का ये आर्टिकल बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि छग के सभी स्कूलों के बच्चों का स्थायी जाति प्रमाण पत्र निः शुल्क बनाया जाना है ,इसके लिए आवेदन फार्म को शिक्षकों द्वारा भरा जायेगा ,क्योंकि बच्चों द्वारा बहुत से गलती होने की संभावना है। 

यदि आप भी एक शिक्षक है और आपके स्कूल में भी विद्यार्थियों की जाति प्रमाण पत्र के लिए आवेदन भर रहे है तो आज का आर्टिकल आपके लिए बहुत मददगार होगा। इसे अंत तक पढ़ें और अन्य शिक्षकों को भी शेयर करें। 

स्थायी जाति के लिए आवेदन फार्म 

छग के विभिन्न स्कूलों में पढ़ने वाले कक्षा पहली से बारहवीं तक सभी विद्यार्थियों की जाति प्रमाण पत्र स्कूलों के माध्यम से निः शुल्क बनाने की इस योजना से लाखों छात्र /छात्राओं को फायदा होने वाला है। क्योंकि इसके लिए किसी तहसील कार्यालय की चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं है। 

आवेदन फार्म स्कूल में भेज दिया गया है। सम्बंधित स्कूल से जातिवार संख्या के आधार पर सभी वर्गों के बच्चों के लिए आवेदन फार्म वितरण किये गए है। फार्म को शिक्षकों द्वारा भरा जायेगा। 

फॉर्म के रंग - यदि स्थायी जाति प्रमाण पत्र के रंग की बात करें तो आपको बता दें कि - अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) के लिए पीला फॉर्म और अनुसूचित जाति  ,अनुसूचित जनजाति के लिए नीला रंग का आवेदन फॉर्म दिया गया है। 

स्थायी जाति के लिए आवेदन फार्म का पीडीऍफ़ फाइल आपको हमारे इस आर्टिकल में दिया गया है ,वहा से आप फार्म को देख सकते है। साथ ही भरे हुए आवेदन फार्म भी इसी आर्टिकल में दिया गया है। आप उस लिंक में क्लिक करके फार्म डाउनलोड कर सकते है । 

भरे हुए आवेदन फॉर्म डाउनलोड करें 

स्थायी जाति प्रमाण पत्र के लिए आवश्यक दस्तावेजों के बारे में जानना भी बहुत जरुरी है। क्योंकि दस्तावेजों के अभाव में स्थायी जाति प्रमाण पत्र नहीं बन पायेगा। तो चलिए फ्रेंड्स , फार्म भरने से पहले उन सभी दस्तावेजों के बारे में जान लेते है जो आवश्यक है। 

आवश्यक दस्तावेजों की सूचि 

स्थायी जाति प्रमाण पत्र के लिए पांच पीढ़ी के दस्तावेज की आवश्यकता होती है। इसके लिए सम्बंधित ग्राम के पटवारी पटवारी द्वारा वंश वृक्ष बनाया जाता है ,जिसमे दर्ज नाम से सम्बंधित दस्तावेज जमा करना होता है। ये दस्तावेज इस प्रकार है -

➤ मिसल बंदोबस्त 

➤ जमाबंदी गिरदावरी 

➤ अधिकार अभिलेख (1954)

➤ जनगणना अभिलेख (1931)

➤ जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र या पंजी 

➤ दाखिल ख़ारिज पंजी 

➤ मतदाता वोटर कार्ड 

➤ राशन कार्ड 

➤ बी -1 ,खसरा 

➤ जमीन की पर्ची 

➤ आधार कार्ड 

➤ पटवारी प्रतिवेदन 

➤ वंश वृक्ष (स्थल जांच )

➤ अन्य दस्तावेज 

➤ पासपोर्ट साइज फोटो 

ऊपर बताये गए दस्तावेजों में से कोई भी जिसमे पूर्वजों के नाम हो जिसमे जाति का भी उल्लेख हो ,उसे फार्म के साथ संलग्न करना है। 

चलिए अब आपको जाति वर्ग के आधार पर दस्तावेजों  बताते है ,कि कितने वर्ष पुराने डाकुमेंट की आवश्यकता अनुसूचित जाति  ,अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आवश्यक है। 

अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) के लिए दस्तावेज 

अन्य पिछड़ा वर्ग के अंतर्गत आने वाले जातियों की सत्यापन के लिए दिनांक 26/12/1984 या इसके पूर्व का दस्तावेज होना अनिवार्य है। इसमें पूर्वजों का मिसल बंदोबस्त या अधिकार अभिलेख सबसे अच्छा दस्तावेज है। 

इसके अलावा यदि बच्चे के पालक - पिता /दादा या परिवार के अन्य सदस्य शिक्षित है तो दाखिल ख़ारिज इस प्रमाण के लिए पर्याप्त है। 

अ. जा. /अ.ज.जाति (SC/ST ) के लिए दस्तावेज 

अनुसूचित जनजाति और अनुसूचित जाति के पूर्वजों की सत्यापन के लिए दिनांक 10/08 1950 या इससे पूर्व का दस्तावेज होना अनिवार्य है। इसके लिए मिसल बंदोबस्त सबसे अच्छा दस्तावेज है जो सन 1927-28 का होता है। अधिकार अभिलेख भी उपयोगी दस्तावेज है। 

यदि मिसल बंदोबस्त न मिले तो पंचायत से जारी अक्षमता प्रमाण पत्र जो ग्राम सभा में प्रस्ताव के साथ पारित हो ,ये भी मान्य होता है। 

फार्म कैसे भरें - सभी पेज की जानकारी देखें 

स्थायी जाति के लिए आवेदन फार्म में कुल 7 भाग  है। आपको यहाँ भरे हुए आवेदन फार्म का लिंक दिया गया है। इसे डाउनलोड करके भी देख सकते है। चलिए आपको सभी पृष्ठ को कैसे भरें इसके बारे में बताते है। 

उदाहरण के तौर पर यहाँ एक फार्म भरकर बताया जा रहा है। इस फॉर्म में छात्र  का नाम आदित्य साहू है ,जो कक्षा 10 वीं का छात्र है।  छात्र के पिता का नाम अमन कुमार साहू है और छात्र के दादा का नाम मोहन  लाल साहू है। 

पहला भाग -(फार्म अ) रेवेन्यू आर्डर शीट 

आवेदन पत्र का सबसे पहला पेज रेवेन्यू आर्डर शीट है। ये फार्म अ है। इस पेज में आवेदक की जानकारी भरना है। यहाँ पर ये जानना बहुत जरूर है की आवेदक कौन बन सकता है ,और इसमें किसका नाम लिखें। 

आवेदक के लिए किसी भी व्यक्ति का वयस्क होना जरुरी है अर्थात 18 वर्ष की आयु पूर्ण करना अनिवार्य है। अतः आवेदक  के  रूप में विद्यार्थि के पालक का नाम लिखना है। इसमें बच्चे के पिता ,माता ,दादाजी ,चाचा  पिताजी कोई भी हो सकते है। 


सबसे अच्छा विकल्प बच्चे के पिता या दादा को आवेदक के रूप में चयन करें। निवास ग्राम भरें ,प.ह.न. भरें ,इसके साथ ही तहसील और जिला भरें। 

आवेदक के पूर्वज के 1984/1950 के पूर्व ग्राम का नाम लिखें ,साथ ही आवेदक की जाति लिखें। इस पेज में पेज में आवेदक के चल अचल संपत्ति कहा है उस ग्राम का नाम लिखें। 

फार्म में विद्यार्थी /पालक का मोबाइल नंबर जरूर लिखें क्योंकि ऑनलाइन एंट्री के समय मोबाइल नंबर अनिवार्य है।  पेज के पीछे भाग में आवेदक के पिता का व्यवसाय लिखें और साथ ही उनका वार्षिक आय भरें। 

दूसरा भाग- अस्थायी सामाजिक प्रास्थिति प्रमाण पत्र 

आवेदन पत्र का यह भाग बहुत महत्वपूर्ण है। इस भाग में विद्यार्थी का नाम लिखना है ,साथ ही फार्म के इस भाग में विद्यार्थी के जाति का अनुक्रमांक भी लिखना है। अनुक्रमांक अलग अलग जाति  अलग अलग है। इसकी सूचि का पीडीऍफ़ नीचे दिया गया है आप इसे डाउनलोड करके देख सकते है। जैसे - तेली  51 ,लोधी  49 राउत 01 इत्यादि।


 सभी जाति के लिए अनुक्रमांक लिस्ट डाउनलोड करें 

फार्म के इस भाग में क्रमांक 2 में विद्यार्थी के पिता का नाम लिखना है और साथ ही उनका वार्षिक आय की राशि को भी यहाँ भरें। ध्यान रहे यहाँ पर बच्चे का नाम नहीं लिखें। 

इस इस फार्म के दो प्रति है दोनों प्रति एक सामान भरें। 

तीसर भाग - आवेदन पत्र (पीला/नीला फ़ार्म)

फार्म के इस भाग में सबसे पहले ऊपर दायीं ओर शाळा का नाम ,विद्यार्थी के कक्षा ,स्कूल , प.ह.न. और तहसील भरें। उसके बाद उपखण्ड और जिला का नाम लिखें। 

यहाँ पर ध्यान  रखने वाली बात है कि उपखण्ड और जिला के नीचे वाले लाइन में विद्यार्थी का नाम लिखना है और क्रमांक 1 में जहा (छात्र /छात्रा) आवेदक का पूरा नाम वाले लाइन में बच्चे के पालक /पिताजी जो आवेदक बने है उनका नाम लिखें। 

फार्म के इस भाग में कुल 12 बिंदु दिए गए है। जिसमे क्रमांक 1 में आवेदक (बच्चे के पिता )का नाम ,क्रमांक 2 में आवेदक के पिता का नाम (बच्चे के दादा ) का नाम ,क्रमांक 3 में निवास का वर्तमान और स्थायी पता। क्रमांक 4 में आवेदक (बच्चे के पिता ) का जन्मतिथि भरें। 


क्रमांक 5 में धर्म (हिन्दू /मुस्लिम /सिख /ईसाई ) भरें ,क्रमांक 6 में जाती और उपजाति (तेली/साहू) भरें ,क्रमांक 7 में आवेदक के पिता का व्यवसाय भरें ,क्रमांक 8 में 26/12/1984 या उसके पूर्व आवेदक के पूर्वज के निवास का स्थायी पता लिखें। 

क्रमांक 9 में 26/12/1984 से अब तक आवेदक और उसके माता /पिता जिन जिन स्थानों पर रहे है उनका विवरण दें ,क्रमांक 10 में परिवार के मुखिया का नाम लिखें ,क्रमांक 11 सामान्यतः छोड़ दें यदि लागू हो तो सरल क्रमांक लिखें। 

क्रमांक 12 में विद्यार्थी /आवेदक के द्वारा जो दस्तावेज जमा किये गए है जिसमे उनके पूर्वजों का नाम और जाति उल्लेख हो उन सभी दस्तावेजों का विवरण दें। क्रमांक 12 के उपक्रमांक 3 में हाँ ,4 में नहीं ,5 में नहीं और उपक्रमांक 6 में हाँ पर टिक करें। 

फार्म के इस भाग में सत्यापन के लिए आवेदक का हस्ताक्षर कराएं और उनका नाम भी लिखें। स्थान और दिनांक भी जरूर लिखें। 

चौथा भाग -शपथ पत्र 

आवेदन फार्म के इस भाग में जो कि शपथ पत्र है इसमें आवेदक का विवरण भरना है। जैसे कि पहले ही बताया जा चुका है आवेदक का उम्र 18 वर्ष पूर्ण होना अनिवार्य है। अतः यहाँ आवेदक में विद्यार्थी के पिता का विवरण भरना है। 


यहाँ पर फोटो भी पेस्ट करना है ये फोटो जो आवेदक बने है उनका ही फोटो पेस्ट करें। शपथ पत्र में कुल 4 बिंदु दिए गए है। जिसमे क्रमांक 2 में आवेदन पत्र के साथ जमा जो दस्तावेज जमा कर रहे है उनका नाम लिखें। जैसे - मिसल ,अधिकार अभिलेख ,बी 1 ,राशन कार्ड ,,,इत्यादि। 

शपथ पत्र के नीचे भाग में आवेदक का नाम लिखें और हस्ताक्षर कराएं। साथ ही सत्यापन के लिए दिए गए सभी जानकारी सही हो इसका विशेष ध्यान रखें। 

पांचवा भाग - पावती 

आवेदन पत्र का पांचवा भाग कार्यालय के लिए है। इस भाग में फार्म को जमा लेने वाले आपके द्वारा संलग्न किये गए सभी दस्तावेजों को चेक करेंगे और दस्तावेजों के नाम में टिक मार्क करेंगे। यदि कोई अन्य दस्तावेज जो इसमें नहीं दिए गए है उसे क्रमांक (बारह) में दर्ज करें। 

फार्म जमा करें तो ये पावती जरूर लें। 

छठवां भाग - सामाजिक पारिस्थिति प्रमाण पत्र (स्थायी जाति) 

फार्म के इस भाग को बहुत सावधानी पूर्वक भरें ,क्योंकि यही बच्चे का स्थायी जाति प्रमाण पत्र है। इस भाग में ऊपर की और मंडल और जिले का नाम लिखें। साथ ही विद्यार्थी के स्कुल का नाम लिखें। 

अब प्रमाणित किया जाता है कि वाले लाइन में विद्यार्थी का नाम ,वास्के पिता का नाम ,निवास ग्राम ,तहसील और जिला नाम भरें। 


जाति की अनुक्रमांक भरें जो सभी जाती के लिए अलग अलग है। सूचि का लिंक पोस्ट में दिया गया है उसे डाउनलोड कर लें। क्रमांक 2 में भी विद्यार्थी का नाम भरें। और क्रमांक 3 में आवेदक अर्थात बच्चे के पिता का नाम भरें। 

इस फार्म के दो प्रति है दोनों प्रति को एक सामान भरें और अच्छे से चेक कर लें। 

सातवां भाग - पटवारी प्रतिवेदन 

फार्म का यह भाग बहुत महत्वपूर्ण और अनिवार्य है। ये भाग सम्बंधित हल्का नंबर  के पटवारी द्वारा भरा जायेगा। इस भाग में अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 10 बिंदु में जानकारी देना है और अनुसूचित जाति /अनुसूचित जनजाति के लिए 5 बिंदु में जानकारी भरना है। 

पटवारी  प्रतिवेदन में आवेदक के जमीन सम्बन्धी जानकारी भरना है कि कितना जमीन  नाम  सम्बंधित हल्का नंबर  के पटवारी का हस्ताक्षर होना अनिवार्य है। 


इस प्रकार स्थायी जाति के लिए स्कूलों द्वारा भरें जाने वाले आवेदन पत्र के सभी भागों को विस्तार से समझाया गया है। उम्मीद करते है ये सभी शिक्षकों के लिए बहुत उपयोगी और मददगार होगी। 

दोस्तों ये महत्वपूर्ण जानकारी को अन्य शिक्षकों में भी जरूर शेयर करें ,जिससे उनकों भी इसके बारे में मदद मिल सके। ऐसे ही उपयोगी जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे वेबसाइट onlinebharo.com में नियमित विजिट करें। 

लेटेस्ट उपडेट सबसे पहले पाने के लिए आप हमारे व्हाट्सअप और टेलीग्राम चैनल से भी जुड़ सकते है। लिंक नीचे दिया गया है। 

Join Whatsapp Group 

Join Telegram Channel 

आज  के आर्टिकल में स्थायी जाति के लिए आवेदन फार्म को कैसे भरें (How To Fill Cast Certificate Form) इसकी जानकारी दिया गया है। यदि आपको इससे सम्ब्नधित कोई समस्या हो या कोई प्रश्न हो तो आप हमें नीचे दिए कमेंट बॉक्स में लिखकर पूछ सकते है। बहुत जल्द आपके सवालों का जवाब दिया जाएगा। धन्यवाद 

ये आर्टिकल भी पढ़ें 




Post a Comment

5 Comments

  1. पंचायत प्रस्ताव से स्थायी जाति प्रमाण पत्र बन जाता है कहते हैं पर अभी तक किसी का बना नही ।यदि किसी का बना हो तो पूरी प्रक्रिया बताइए।

    ReplyDelete
    Replies
    1. पंचायत प्रस्ताव सभी जगह मान्य नहीं है ,,,,वहीँ मान्य होगा जहां अधिकारी अलाऊ करेंगे . यदि आपके ब्लॉक में sdm ने ऐसा कहा है कि दस्तावेज नहीं होने पर पंचायत प्रस्ताव लगायें ,,तो बन जायेगा .

      Delete
  2. पंचायत प्रस्ताव से स्थायी जाति प्रमाण पत्र बन जाता है कहते हैं पर अभी तक किसी का बना नही ।यदि किसी का बना हो तो पूरी प्रक्रिया बताइए।

    ReplyDelete