GPF क्या है ? जीपीएफ अकाउंट ओपनिंग फार्म कैसे भरे पूरी जानकारी | GPF Account Opening Form Download

जीपीएफ खाता के लिए फार्म कैसे भरें 

सरकारी कर्मचारियों के लिए महत्वपूर्ण जानकारी आज के आर्टिकल में बताया गया है . यदि आप किसी भी विभाग में सरकारी कर्मचारी या अधिकारी के रूप में कार्य कर रहे  है तो आपको मालूम ही होगा कि - वर्ष 2004 के बाद नियुक्त कर्मचारियों के लिए  पुरानी पेंशन योजना (Old Penson System- OPS  ) के स्थान पर  नवीन पेंशन योजना (New Penson System - NPS)  लागु किया गया है .

कर्मचारियों को  NPS के स्थान पर अब OPS का लाभ देने का निर्णय कई राज्य सरकारें घोषणा कर चुकी है .जिसमे राजस्थान और छग राज्य भी शामिल है . छग की बात करें तो यहाँ की सरकार ने अपने बजट में राज्य के कर्मचारी और अधिकारी जो वर्ष 2004 के बाद नियुक्त हुए है ,उनके लिए पुरानी पेंशन बहाली की घोषणा किये है ,जिसके लिए अब जमीनी स्तर में कार्यवाही शुरू कर दी गई है .



पुरानी पेंशन योजना (OPS) के लाभ के  लिए कर्मचारियों का GPF खाता होना अनिवार्य है . आज के आर्टिकल में हम आपको बताएँगे कि GPF क्या है ?  जीपीएफ अकाउंट ओपनिंग फार्म कैसे भरे ? How To Fill GPF Account Opening Form ,इसकी पूरी जानकारी आज के लेख में दिया गया है .यदि आप भी एक सरकारी कर्मचारी है तो आज का ये आर्टिकल आपके लिए काफी महत्वपूर्ण होने वाला है .

जीपीएफ अकाउंट ओपनिंग फार्म कैसे भरे  ये जानने  से पहले आपको GPF के बारे में भी जरुर जानना चाहिए जैसे - GPF क्या है ? GPF का लाभ किसे मिलता है ? GPF के लिए पात्रता क्या है ? GPF खाता खोलने का form कैसे डाउनलोड करें  इत्यादि . तो चलिए फ्रेंड्स आपको GFP के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से बताते है .

GPF क्या है ? GPF का Full Form 

जीपीएफ (GPF) पीपीएफ अकाउंट की तरह है लेकिन यह भारत में सभी सरकारी कर्मचारियों के लिए है। जीपीएफ सभी सरकारी कर्मचारियों को अपनी सैलरी के एक निश्चित प्रतिशत में जनरल प्रोविडेंट फंड में योगदान करने की अनुमति देता है। कोई भी सरकारी कर्मचारी अपनी नौकरी के दौरान इस फंड में निवेश करता है और रिटायरमेंट के समय यह पैसा निकाल सकता है। जीपीएफ (GPF) का फुल फार्म या पूरा नाम  जनरल प्रोविडेंट फंड (General Provident Fund) है .

प्रोविडेंट फंड तीन तरह के होते हैं। जनरल प्रोविडेंट फंड (जीपीएफ), पब्लिक प्रोविडेंट फंड (पीपीएफ) और ईम्पलोयी प्रोविडेंट फंट (ईपीएफ)। हालांकि तीनों के योगदान, नियम कायदे में और इसके लाभ में अंतर होते है।

सामान्य भविष्य निधि (General Provident Fund) के लिए कौन पात्र है?

जीपीएफ (केंद्रीय सेवा) नियम 1960 के अनुसार सभी अस्थायी सरकारी कर्मचारियों को एक वर्ष की निरंतर सेवा के बाद सभी पुन: नियोजित पेंशनरों (प्रोविडेंट फंड में प्रवेश के लिए पात्र के अलावा अन्य) और सभी स्थायी सरकारी कर्मचारी इस फंड के सदस्यता के लिए पात्र हैं। 

GPF पर ब्याज दर क्या है?

जीपीएफ की सदस्यता लेने वाले सभी सरकारी कर्मचारियों को वित्त वर्ष 2021-22 (अप्रैल-मार्च) में ब्याज दर की 7.1 प्रतिशत मिलेगी। जीपीएफ में सरकारी नियमों के अनुसार ब्याज दर रिवाइज होती है। सामान्य भविष्य निधि (General Provident Fund) सभी सरकारी कर्मचारियों के लिए है और यह पेंशन और पेंशनर्स कल्याण विभाग के अंतर्गत आता है।

जीपीएफ की सदस्यता की वैधता

कोई भी सरकारी कर्मचारी इस  फंड के लिए मासिक सदस्यता ले सकता है, केवल उस अवधि को छोड़कर जब वह निलंबन में हो।

GPF सदस्यता कब समाप्त होती है

रिटायरमेंट की तारीख से तीन महीने पहले प्रोविडेंट फंड की सदस्यता रोक दी जाती है। सदस्यता की दरें ग्राहक की सैलरी के 6 प्रतिशत से कम नहीं होंगी और न ही उसकी कुल आय से अधिक होगी।

GPF अकाउंट ओपनिंग फार्म कैसे भरें 

GPF खाता खोलने के लिए सबसे पहले आपको एक GPF Account Opening Form डाउनलोड करना होगा .इस form का लिंक नीचे दिया गया है जिसमे क्लिक करके आप डाउनलोड कर सकते है .चलिए आपको इस form में दिए गए कॉलम के बारे में बताते है .



चलिए आपको बताते है कौन से  नम्बर में क्या भरना है . उपर दिए गए form में  क्रमांक 1 से 14 तक क्या क्या भरें .
क्रमांक 1 -  यहाँ पर आपको माह का नाम अप्रैल लिखना है .
क्रमांक 2 - यहाँ पर अपने DDO आफिस का नाम लिखना है .यदि आपका वेतन BEO से बनता है तो - विकासखंड शिक्षा अधिकारी लिखें .
क्रमांक 3 - इसमें आप अपने सेलरी अकाउंट भरें .
क्रमांक 4 - यहाँ पर GPF लिखें .
क्रमांक 5 - यहाँ पर सीरियल क्रमांक भरें जैसे - 01 
क्रमांक 6 - कर्मचारी का पूरा नाम लिखें .जैसे - मनोज कुमार ठाकुर 
क्रमांक 7 - कर्मचारी के पिता /पति का नाम लिखें .यदि महिला कर्मचारी है और वह विवाहित है तो अपने पति का नाम भरेंगे ,एनी अपने पिता का नाम भरें .
क्रमांक 8 - कर्मचारी का जन्म तारीख यहाँ भरें .जैसे - 15 .10 .1980 
क्रमांक 9 - यहाँ पर नौकरी में आने की तारीख लिखें . जैसे - 20 .07 .2005 
क्रमांक 10 - यहाँ पर वर्तमान पद लिखें .जैसे- सहायक शिक्षक /शिक्षक /व्याख्याता 
क्रमांक 11 - वर्तमान मूल वेतन भरें .जैसे - 35400 /- 
क्रमांक 12 - यहाँ पर 12 % लिखकर अपने मूलवेतन का 12 % राशि भरें .जैसे - 4248 /- 
क्रमांक 13 - यहाँ पर अप्रैल 2022 लिखें .
क्रमांक 14 - अपने बैंक खाता का विवरण लिखें जो आपने पे स्लिप या बैंक पासबुक में लिखा हो .

इस प्रकार आप क्रमांक 1 से 14 तक सभी जानकारी सावधानी पूर्वक भरकर अपने DDO में जमा कर सकते है .नीचे दिए गए लिंक से आप GPF form और नॉमिनी फार्म डाउनलोड कर सकते है .



Post a Comment

0 Comments